बीएसएनएल के बारे में


building
भारतसंचार निगम लिमिटेड को 15 सितंबर 2000 को निगमित किया गया था। कंपनी ने 1 अक्टूबर, 2000 को चालू व्यवसाय के आधार पर तत्कालीन केंद्र सरकार के दूरसंचार सेवा विभाग (डीटीएस) से दूरसंचार सेवाएं और नेटवर्क प्रबंधन प्रदान करने का व्यवसाय और दूरसंचार प्रचालन (डीटीओ), का कार्यभार संभाला। कंपनी दिल्ली और मुंबई को छोड़कर पूरे देश में दूरसंचार सेवाएं प्रदान करती है। बीएसएनएल, 17,500 करोड़ रुपये की अधिकृत शेयर पूंजी के साथ और 12,500 करोड़ रुपये की चुकता पूंजी, जिसमें इक्विटी के 5,000 करोड़ रुपये और वरीयता शेयर पूंजी के 7,500 करोड़ रुपये शामिल हैं, सहित 100% भारत सरकार के स्वामित्त्व वाले सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम है। वित्तीय वर्ष 2019-20 के दौरान इसकी कुल आय 18,907 करोड़ रुपये थी। .
  • लैंड लाइन सेवाएं
  • 2जी, 3जी और 4जी (सीमित क्षेत्रों में) सेवाओं सहित मोबाइल सेवाएं
  • इंटरनेट, ब्रॉडबैंड, फाइबर टू द होम (एफटीटीएच) सेवाएं
  • वाई-फाई सेवाएं
  • डाटा सेंटर सेवाएं
  • एंटरप्राइज डेटा सेवाएं जैसे लीज्ड सर्किट, एमपीएलएस वीपीएन आदि
  • राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय लंबी दूरी की सेवाएं


बीएसएनएल अपने लाइसेंस क्षेत्र में प्रमुख सेवा प्रदाताओं में से एक है। कंपनी हर ग्राहक के लिए डिज़ाइन की गई व्यापक और सबसे पारदर्शी टैरिफ योजनाएं प्रदान करती है। बीएसएनएल दूरसंचार नेटवर्क आधुनिक वैश्विक नेटवर्क का हिस्सा है, जो वॉइस, डेटा और वीडियो के रूप में सूचना के परिवहन के लिए दुनिया भर के देशों तक पहुंच प्रदान करता है। कंपनी के पास स्विच और ट्रांसमिशन नेटवर्क की योजना, संस्थापना, नेटवर्क एकीकरण और अनुरक्षण/रखरखाव का व्यापक अनुभव है और इसके पास एक विश्व स्तरीय आईएसओ 9001 प्रमाणित दूरसंचार प्रशिक्षण संस्थान भी है।


बीएसएनएल द्वारा 31.08.2020 तक प्रदान की गई सेवाओं का विवरण निम्नानुसार है:-


बीएसएनएल नई तकनीक स्विचिंग नेटवर्क के साथ 100% डिजिटल प्रौद्योगिकी के मामले में सबसे आगे रहा है। बीएसएनएल के पास 1267.21 लाख ग्राहकों का ग्राहक आधार है।


वायर-लाइन सेवाएं: लैंडलाइन के लिए विशाल स्विचिंग नेटवर्क में 31,898 एक्सचेंज शामिल हैं; जिनकी क्षमता 254.04 लाख लाइनें हैं, जिनसे 79.23 लाख ग्राहकों को सेवा प्रदान की जाती हैं।


जीएसएम मोबाइल सेवाएं: बीएसएनएल ने लगभग सभी शहरों और राष्ट्रीय राजमार्गों, रेल मार्गों और राज्य राजमार्गों की पर्याप्त लंबाई को कवर किया है। बीएसएनएल की सेलुलर सेवाएं राष्ट्रीय और महत्वपूर्ण राज्य राजमार्गों के रास्ते में पड़ने वाले ग्रामीण क्षेत्रों में आकस्मिक कवरेज भी प्रदान कर रही हैं। सुसज्जित क्षमता 1165.14 लाख के मुकाबले जीएसएम कनेक्शन 1187.98 लाख काम कर रहे हैं। बीएसएनएल के पास 86,524 (2 जी बीटीएस), नोड-बी (3 जी) की संख्या 61,979 और ई-नोड-बी (4जी) की संख्या 8,271 है। 6,254 शहरों/कस्बों में 3जी सुविधा शुरू की गई है।


ब्रॉडबैंड सेवाएं: बीएसएनएल ने जनवरी 2005 में एडीएसएल2+ तकनीक का उपयोग करते हुए अपनी ब्रॉडबैंड सेवाएं शुरू की थीं और 100.18 लाख ब्रॉडबैंड पोर्ट की स्थापित क्षमता के साथ 70.70 लाख कनेक्शन प्रदान किए थे, बीएसएनएल की ब्रॉडबैंड सेवाओं से (676 में से 665 डीएचक्यू), (6494 में से 6157 बीएचक्यू), (4,609 में से 4,524 शहर) और (6,04,363 में से 1,71,476 गांव) के साथ कवर किया गया है।


बीएसएनएल 31.08.2020 तक वाई-फाई ब्रॉडबैंड कनेक्शन प्रदान कर रहा है, बीएसएनएल के पास 6.06 लाख वाईफाई के विशेष उपयोगकर्ता हैं।
इसके अलावा, बीएसएनएल अपने लैंडलाइन और मोबाइल ग्राहकों को कई मूल्य वर्धित सेवाएं (वीएएस) प्रदान कर रहा है। वीएएस आम तौर पर एक तृतीय पक्ष मद है और राजस्व हिस्सेदारी के आधार पर, फ्रेंचाइजी मॉडल पर प्रदान किया जाता है। बीएसएनएल ने स्टेट ऑफ दि आर्ट प्रौद्योगिकी को सम्मिलित करके और ग्राहक हितैषी दृष्टिकोण अपनाकर अपने नेटवर्क का आधुनिकीकरण किया है।


दृष्टिकोण:

  • भारत का अग्रणी दूरसंचार सेवा प्रदाता बनना।
  • बिक्री एवं विपणन और उपभोक्ता सेवा क्षेत्रों में उत्कृष्टता के साथ एक उपभोक्ता केन्द्रित संगठन का निर्माण करना।
  • ग्राहकों के लिए सस्ती और नवीन दूरसंचार सेवाएँ/उत्पाद प्रदान करने के लिए लीवरेज प्रोद्योगिकी।

मिशन:

  • विश्वस्तरीय उपस्थिति के साथ भारत का अग्रणी दूरसंचार सेवा प्रदाता बनना।
  • सर्वाधिक भरोसेमंद, पसंदीदा तथा सराहनीय दूरसंचार ब्रांड बनना।
  • विश्वस्तरीय दूरसंचार सेवाएँ प्रदान करना जो वैल्यू फॉर मनी(पैसा वसूल) हो।
  • सभी अंशधारकों- कर्मचारियों, शेयरधारकों, विक्रताओं एवं व्यवसाय सहयोगियों के लिए मूल्य़ सृजन।
  • ग्राहक सेवा में उत्कृष्ट, मैत्रीपूर्ण, विश्वसनीय, समयबद्ध, सुविधाजनक एवं सौहार्दपूर्ण सेवा।
  • विभिन्न सेवा खंडों के अनुसार वैभिन्यपूर्ण उत्पाद/ सेवाएं प्रदान करना।
  • ऐसी विपणन और विक्रय संस्कृति विकसित करना जो ग्राहकों की आवश्यकताओं के प्रति प्रतिक्रियाशील हो।
  • लाभप्रदत्ता पर चिरस्थायी केन्द्रण सहित विद्यमान परिसंपत्तियों पर अधिकतम वापसी प्राप्त करना।

उद्देश्य:

  • बिक्री और विपणन को मजबूत बनाने के साथ सेवा की गुणवत्ता और ग्राहक वितरण के माध्यम से ग्राहक प्रतिधारण और अधिग्रहण पर ध्यान देने के साथ बिक्री राजस्व बढ़ाना।
  • प्रौद्योगिकी के उन्नयन के साथ मोबाइल और डेटा सेवाओं के विस्तार की गति को तेज करना।
  • पारदर्शी, त्वरित एवं दक्ष/ कुशल निर्णय लेने हेतु नीतियाँ एवं प्रक्रियाएँ अपनाना।
  • ग्राहक देखभाल के प्रति दृष्टिकोण के साथ बिक्री और विपणन टीम का विकास करना।
  • शहरी, उप-शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में बीएसएनएल की पहुँच बढ़ाना।
  • दोष दर को कम कर ग्राहक सेवा केन्द्र(सीएससी), को नवीनीकृत करना और सम्मिलित(कन्वरजेंट) बिलिंग शुरू कर ग्राहक सेवा में सुधार करना।
  • बीएसएऩएल सेवाओं के प्रति ग्राहकों की रूचि बढ़ाने के लिए प्रदर्शन पर मजबूती से ध्यान देने के साथ कार्य के प्रति अनुकूल माहौल प्रदान करना ।
  • डेटा सेवाओं का लाभ उठाते हुए वायर लाइन और वायरलेस ब्रॉडबैंड ग्राहकों के लिए उच्च बैंडविड्थ क्षमताओं को प्रदान करके बीएसएनएल के ग्राहक के आधार और राजस्व में वृद्धि करना।
  • विद्यमान बुनियादी ढाँचे जैसे भूमि, निर्माण और निष्क्रिय बुनियादी ढाँचे जैसे टावर इत्यादि के साझाकरण/ मुद्रीकरण के द्वारा अपनी परिसंपत्तियों का लाभान्वित उपयोग करके कंपनी की वित्तीय स्थिति को मजबूत करना।
  • वाई-फाई हाट स्पॉट बनाना और अगली पीढ़ी(नेक्स्ट जनरेशन) नेटवर्क द्वारा विरासती (लीगेसी) वायर लाइन एक्सचेंजों को बदलना।
  • डाटा और वीडियों दोनों के लिए बढ़ती बैंडविड्थ की आवश्यकता को पूरा करने के लिए एफटीटीएच के माध्यम से विशेष रूप से अपार्टमेंट कॉम्पलैक्स में ग्राहक परिसर के पास फाइबर नेटवर्क की पहुँच का विस्तार करना।
  • बीएसएनएल के मौजूदा आधारभूत संरचना का लाभ उठाते हुए सरकारी कार्यक्रमों जैसे नेशनल ऑप्टीकल फाइबर नेटवर्क (एनओएफएन) नेटवर्क स्पेकट्रम और स्मार्ट सिटी(एनएफएस) अवधारणा पर आधारित पहलों के निष्पादन को सुविधाजनक बना कर राष्ट्र निर्माण में योगदान देना।
  • प्रशिक्षण और कौशल विकास तथा विरासत में प्राप्त जनशक्ति के पुनरीक्षण द्वारा उत्पादकता में सुधार करना।
  • नवीनतम प्रौद्योगिकीय प्रगति के लिए मुक्त ज्ञान पूल का विकास करना।
  • अंतरराष्ट्रीय विकासशील बाजारों में दूरसंचार सेवा के अवसरों का पता लगाना।
  • विश्वसनीय और सुरक्षित सेवा नेटवर्क प्रदान कर सरकार का पसंदीदा सेवा प्रदाता बनना और राष्ट्रीय सुरक्षा हितों की सेवा करना।